Category Archives: funny

दगा

Standard

बड़ा प्यार था तुमसे
जूनून जैसा
तुम्हारी खुशबू
पागल सा करती मुझको
एक बार तो सोचा होता
पीठ पे खंजर घोंपते
कि जिस्म का नहीं
भरोसे की रूह का क़त्ल है
कल से अख़बार में
खबर ताज़ा है-
मत पूछो हाल इस दिल का
टूट ही नहीं,
धड़कना भी भूल सा….
“मेरी वाली maggi”
तो कभी मेरी थी ही नहीं!

:)

Standard

The X and the O
Visited me yesterday
Said, they missed me
For the game of tic-tac-toe

We couldn’t then bid good bye
To the bygone childhood days
Sat again scribbling for hours
Midst the # on backyard’s clay

Loosing or winning, but giggling
Living again before they leave
Back to their lovely hut
And a life carefree

To spend their time with teens
Who, lost in their fresh dreams
In leisure yet engage
And carry the legacy to new age.

A colon, half a bracket…..
Was all that I could offer.
“C ya” said the parting glances
And ditto they responded..!!
.
.
.
.
.
.
And they left but still they stay !
🙂

“जीवन-रेखा”

Standard

किच-किच की बिमारी
जब से गले लगाई
चाहे ना चाहे
हर दिन एक लड़ाई

आज छोड़ा वो कोना
आज जला भगोना
डूब ही जाता दिल फिर-
आज देर से आई ।

गुस्सा सब छिपाया
तोहफे का मलहम लगाया
ठोके उनको सलामी
अतिथि की खबर जो आई

हुई काम में बदली
छोड़ चले हम दिल्ली
लंदन या शंघाई
रंगत उन्ही की छायी

लाख रुपैये कमा लो
पुर्जे लाख लगा लो
घर में फिर भी जपोगे
“जय-जय काम वाली बाई”।

.
.
.
.
.
.
.
.
For a friend recently posted abroad whose “kaam waali baai” didnt turn up today 😉