देखो पंख लगे हैं गाने

Standard

दूर गगन में फैलाये पर
चाँद को छू लेने को तत्पर
नन्ही चिड़िया छोड़ घरोंदा
आज भरे ऊँची उड़ाने
देखो पंख लगे हैं गाने ।

चीलों का डर नहीं सताता
ना थकान से मन घबराता
मिटा असंभव का अस्तित्व
उड़े आस के छेड़ तराने
देखो पंख लगे हैं गाने ।

खेल सभी बचपन के छूटे
लहु यौवन का बाहें खींचे
तान उमंगों की कमान
जग को अपनी हस्ती दिखलाने
देखो पंख लगे हैं गाने ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.